अप्रैल 2020 से भारत में BS-VI मानक लागु होंगे

हाल ही केंद्र सरकार ने यह स्पष्ट किया है कि 1 अप्रैल, 2020 के बाद केवल BS-VI (भारत स्टेज-6) मानक लागू होंगे, इसके तहत देश में बीएस-VI मानक के अनुकूल वाहन ही बिक सकेंगे। BS-VI वाहन पर्यावरण के लिए कम नुकसानदेह होते हैं, इसके लिए पूरे देश में BS-VI इंधन भी उपलब्ध करवाया जायेगा।

मुख्य बिंदु

BS-VI इंधन की आपूर्ति के लिए सरकारी कंपनियां तेल शोधन कारखानों में लगभग 28,000 करोड़ रुपये का निवेश करेंगी। इस निवेश का उपयोग तेल शोधन कारखानों को अपग्रेड करने के लिए किया जायेगा, जिससे कि पर्यावरण के लिए कम नुकसानदेह BS-VI इंधन की आपूर्ति सुनिश्चित की जा सके।

BS-VI वाहन और इंधन के आगमन ने वाहनों से उत्सर्जित होने वाले नुकसानदायक गैसों में कमी आएगी, और इससे प्रदूषण कम होगा।

भारत स्टेज उत्सर्जन मानक  (Bharat Stage Emission Standards)

यह भारत सरकार द्वारा स्थापित किया गया उत्सर्जन मानक है, यह यूरोपियन रेगुलेशन पर आधारित है। इसका उद्देश्य वाहनों द्वारा उत्सर्जित किये जाने वाले प्रदूषण को नियंत्रित करना है। भारत स्टेज के मानक व समय सीमा केन्द्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड द्वारा निश्चित की जाती है। यह मानक देश में पहली बार वर्ष 2000 में शुरू किये गए थे। देश में नए वाहनों का निर्माण इन मानकों के आधार पर ही किया जाता है। अक्टूबर 2010 में भारत स्टेज III मानक पूरे देश में लागू किये गए थे, अप्रैल 2017 से पूरे देश में BS-IV पूरे देश में लागू किया गया। 2016 में सरकार ने घोषणा की थी देश में BS-V लागू नहीं होगा, इसके स्थान पर BS-VI ही लागू किया जायेगा। भारत सरकार की योजना 2020 से BS-VI मानक लागू करने की है।

Advertisement

Month:

Categories:

Tags: , , ,