अमेरिका ने विश्व स्वास्थ्य संगठन से अलग होने के लिए संयुक्त राष्ट्र महासचिव को नोटिस भेजा

विश्व स्वास्थ्य संगठन के साथ अमेरिका का सम्बन्ध समाप्त करने के लिए राष्ट्रपति ट्रम्प के नेतृत्व वाले प्रशासन ने अमेरिकी कांग्रेस को 7 जुलाई, 2020 को आधिकारिक अधिसूचना प्रदान की।

अधिसूचना के अनुसार, अमेरिकी सरकार ने संयुक्त राष्ट्र के महासचिव को 6 जुलाई, 2021 तक डब्ल्यूएचओ से अलग होने के लिए अपना नोटिस दिया है।

डब्लूएचओ से सदस्यता की समाप्ति एक वर्ष की प्रक्रिया होगी क्योंकि कई कारकों के बीच आने की संभावना है जिसमें डोनाल्ड ट्रम्प के नेतृत्व वाले प्रशासन का नियंत्रण नहीं होगा। ऐसा ही एक कारक नवंबर 2020 में होने वाला राष्ट्रपति चुनाव है, अगर ट्रम्प हार जाते हैं और डेमोक्रेटिक पार्टी के उम्मीदवार जो बिडेन को संयुक्त राज्य अमेरिका के राष्ट्रपति के रूप में चुना जाता है, तो अमेरिका WHO के सदस्य के रूप में रहेगा क्योंकि जो बिडेन ने सार्वजनिक रूप से घोषणा की है कि उन्हें राष्ट्रपति के रूप में चुने जाने पर वे अमेरिका को विश्व स्वास्थ्य संगठन से पुनः जोड़ेंगे।

पृष्ठभूमि

अमेरिका ने कोरोनावायरस महामारी का उल्लेख करते हुए 18 मई, 2020 को डब्ल्यूएचओ की फंडिंग को रोकने और संगठन के साथ सदस्यता पर  पुनर्विचार करने की बात कही थी। राष्ट्रपति ट्रम्प ने विश्व स्वास्थ्य संगठन पर कोरोनावायरस महामारी का कुप्रबंधन करने का आरोप भी लगाया है।

विश्व स्वास्थ्य संगठन के वार्षिक बजट में अमेरिका सर्वाधिक 450 मिलियन डॉलर का योगदान देता है।

Advertisement

Month:

Categories:

Tags: , , , ,