गुरु नानक देव की शिक्षा पर पुस्तकें लांच की गयी

केन्द्रीय खाद्य प्रसंस्करण मंत्री हरसिमरत कौर बादल तथा केन्द्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री रमेश पोखरियाल निशांत ने गुरु नानक देव की शिक्षा पर तीन पुस्तकें जारी की। इन पुस्तकों को करतारपुर कॉरिडोर के उद्घाटन से पहले लांच किया गया है।

यह तीन पुस्तकें हैं : गुरु नानक बाणी, नानक बाणी तथा सखियां गुरु नानक देव। इस पुस्तकों का प्रकाशन नेशनल बुक ट्रस्ट द्वारा किया गया है। इन पुस्तकों के माध्यम से देश भर गुरु नानक देव जी की शिक्षाओं का प्रचार-प्रसार किया जाएगा। ‘गुरु नानक बाणी’ का प्रकाशन पांच भाषाओँ (उर्दू, उड़िया, मराठी, हिंदी तथा गुजराती) में किया गया है, बाद में इसका प्रकशन 15 अन्य भारतीय भाषाओँ में किया जाएगा।

करतारपुर कॉरिडोर

इस कॉरिडोर से भारत से गुरुद्वारा दरबार साहिब कर्तापुर की यात्रा करने वाले यात्रियों को सुगमता होगी। इसका प्रस्ताव सर्वप्रथम श्री अटल बिहारी वाजपेयी द्वारा 1999 में रखा गया था। यदि इसे दोनों ओर से जोड़ा जाये तो धार्मिक पर्यटन में काफी वृद्धि होगी।

इस कॉरिडोर का निर्माण केंद्र सरकार द्वारा प्रदान किये गये फंड्स से किया जा रहा है। इसके अतिरिक्त पाकिस्तान को भी सिख समुदाय की धार्मिक भावनाओं को मध्य नज़र रखते हुए, अपने क्षेत्र में कॉरिडोर का निर्माण करने के लिए भी कहा गया था।

करतारपुर साहिब पाकिस्तान में स्थित है, यह भारत के डेरा बाबा नानक श्राइन से 4 किलोमीटर दूर स्थित है। इस कॉरिडोर के द्वारा डेरा बाबा नानक श्राइन तथा करतारपुर साहिब को जोड़ा जायेगा।

Advertisement

Month:

Categories:

Tags: , , , , , , , , ,