जनधन योजना के तहत लगभग 75 हजार करोड़ रुपए हुए जमा

जनधन योजना में पैसे जमा करने का ट्रेंड फिर से वापस हो गया है। फरवरी तक जनधन स्कीम में करीब 75 हजार करोड़ रुपए जमा हो गए हैं। जो कि नोटबंदी के समय हुई सख्ती के बाद सबसे ज्यादा है। इसके पहले नवंबर 2016 में नोटबंदी लागू होने के बाद लोगों ने काला धन खपाने के लिए जनधन खाता उपयोग किया था। जिसकी वजह से जनवरी 2017 में जमा रकम 87 हजार करोड़ रुपए तक पहुंच गई थी। सरकार की सख्ती के बाद जो गिरकर 50 हजार करोड़ रुपए के आसपास पहुंच गई थी। अब फिर से जनधन योजना में पैसे जमा करने का ट्रेंड बढ़ा है।

31 करोड़ खाता धारक

जनधन योजना में फरवरी 2018 तक 31 करोड़ ने खाता धारको ने पैसे जमा कराएं हैं। इसके तहत 75 हजार करोड़ रुपए से ज्यादा जमा हुए है। जिसमें से 18 करोड़ धारक शहरी इलाकों के हैं। वहीं करीब 13 करोड़ धारक ग्रामीण इलाकों के हैं। इसमें से 50 फीसदी से ज्यादा यानी 16 करोड़ से ज्यादा महिला खाता धारक हैं।

यूपी-बिहार-बंगाल के लोगों ने सबसे ज्यादा जमा किया पैसा

वित्त मंत्रालय की रिपोर्ट के अनुसार सबसे ज्यादा जनधन खाते में सबसे ज्यादा यूपी-पश्चिम बंगाल और बिहार के लोगों ने पैसा जमा किया है। रिपोर्ट के अनुसार यूपी में लोगों ने 12443 करोड़ रुपए जमा किए हैं। जबकि पश्चिम बंगाल में 11760 करोड़ रुपए जमा किए गए हैं। जबकि बिहार में 6983 करोड़ रुपए जमा किए गए हैं। यानी जनधन खाता में जमा कुल रकम का करीब 40 फीसदी जमा इन तीन राज्यों के लोगों ने किया है।

बीमा कवर 2 लाख तक का मिलता है

जन धन खाता धारको को 30,000 रुपए का जीवन बीमा कवर मिलता है। इसके अलावा जन धन योजना के तहत खाता धारको को 2 लाख रुपए का दुर्घटना कवर मिलता है।

Advertisement

Month:

Categories:

Tags: , , , ,