डॉलर के विरुद्ध भारतीय रुपया पहुंचा अपने न्यूनतम स्तर 69.12 पर

भारतीय रुपया डॉलर के विरुद्ध अपने न्यूनतम स्तर 69.12 पर पहुंचा। इससे पहले डॉलर के विरुद्ध रूपए का सबसे न्यूनतम स्तर 68.89 था, जिसे रूपये ने 27 जून को छुआ था। इस वर्ष भारतीय रुपया डॉलर के विरुद्ध सबसे ख़राब करने वाली मुद्राओं में से एक रहा है। वित्तीय संस्था मॉर्गन स्टानले के अनुसार वर्ष की तीसरी तिमाही में रूपया 70.03 के स्तर पर पहुँच सकता है।

मुख्य बिंदु 

भारतीय रुपये के ख़राब प्रदर्शन का कारण अमेरिकी सीनेट द्वारा ब्याज दर बढ़ने के संकेत, विभिन्न अंतर्राष्ट्रीय अनिशिचित्तायें और मुद्रा स्फीति है। केंद्र सरकार ने भारतीय रिज़र्व बैंक को मुद्रा स्फीति को 4% पर नियंत्रित करने का आदेश दिया। मौद्रिक नीति समिति की बैठक 30 जुलाई को शुरू होगी। इस बैठक के बाद RBI तीसरी द्विमासिक नीति को घोषणा करेगा।

किन्ही दो मुद्राओं के मूल्यों में अंतर होने के मुख्य कारण हैं : मुद्रास्फीति दर, ब्याज दर, केन्द्रीय बैंक का हस्तक्षेप इत्यादि।

Advertisement

Month:

Categories:

Tags: , , , ,