राष्ट्रपति द्वारा नवाचार एवं उद्यमशीलता पर्व का उद्घाटन |

19 मार्च को राष्ट्रपति भवन में नवाचार एवं उद्यमशीलता पर्व (FINE) का राष्ट्रपति द्वारा उद्घाटन किया गया और सोसाइटी फॉर रिसर्च एंड इनिशिएटिव्स फॉर सस्टेनेबल टेक्नोलॉजीस एंड इंस्टीट्यूशंस (SRISTI) द्वारा गठित गांधीवादी युवा प्रौद्योगिकीय नवाचार पुरस्कार भी प्रदान किये गए ।

प्रमुख बिंदु

-नवाचार एवं उद्यमशीलता पर्व नवाचारों को स्वीकृति देने, सम्मानित करने, प्रदर्शित करने तथा नवोन्मेषकों के लिये एक सहायक प्रणाली को बढ़ावा देने से संबंधित एक पहल है जिसका आयोजन 19 से 23 मार्च, 2018 तक राष्ट्रपति भवन में भारत सरकार के विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी विभाग तथा राष्ट्रीय नवोन्मेषण फाउंडेशन, इंडिया के सहयोग से किया जा रहा है।
-नवाचार एवं उद्यमशीलता पर्व नवोन्मेषकों के लिये संभावित हितधारकों के साथ संपर्क स्थापित करने का एक मंच मुहैया कराएगा जिसका सहयोग नवोन्मेषकों को उनके विचारों को व्यापक सामाजिक कल्याण के लिये कार्यान्वित की जाने वाली परियोजनाओं में परिणत करने में सहायक हो सकता है।
-नवाचार एवं उद्यमशीलता पर्व में एक ‘इन-रेसीडेंस‘ कार्यक्रम भी शामिल है जिसके एक हिस्से के रूप में 10 नवोन्मेषण विद्वानों का एक समूह प्रेसीडेंट एस्टेट में रहेगा और उन्हें संरक्षण एवं मुख्य हितधारकों के साथ विचारों को साझा करने का एक अवसर उपलब्ध होगा।

सृष्टि

-सृष्टि का हिंदी में अर्थ है सृजन जिसकी स्थापना 1993 में ज़मीनी स्तर पर सृजनात्मकता की पहचान, सम्मान और पुरस्कार देने की हनी बी नेटवर्क की गतिविधियों को समर्थन देने के लिये की गई थी।
-यह प्रामाणिक और जवाबदेह संभाषण दर्शन का प्रतीक है। यह लोगों-को-लोगों से सीखने के लिये प्रोत्साहित करता है।
-सृष्टि ज्ञान से समृद्ध, आर्थिक रूप से गरीब लोगों को उनकी समकालीन रचनात्मकता और उनके परंपरागत ज्ञान में मूल्य जोड़कर सशक्त बनाने के लिये समर्पित है
-इसके कार्य हैं : ज़मीनी हरित नवप्रवर्तनों का प्रसार और उनका मूल्यवर्द्धन,व्यवस्थित दस्तावेज़ीकरण, मूल स्थान पर या इसके बाहर स्थानीय जैव विविधता और जुड़े ज्ञान प्रणालियों के संरक्षण में मदद करने के अलावा बौद्धिक संपदा अधिकारों के संरक्षण और जोखिम पूंजी समर्थन का प्रावधान करना।

Advertisement

Month:

Categories:

Tags: , , , ,