भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण ने चौखंडी स्तूप को राष्ट्रीय महत्व का स्मारक घोषित किया

केन्द्रीय संस्कृति मंत्रालय द्वारा जारी अधिसूचना के अनुसार उत्तर प्रदेश के सारनाथ में स्थित बौद्ध स्थल “चौखंडी स्तूप” को भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण द्वारा राष्ट्रीय महत्व को स्मारक घोषित किया गया है।

चौखंडी स्तूप

यह एक प्राचीन बौद्ध स्थल है, इसका निर्माण 5वीं सदी में किया गया था। इसका वर्णन ह्यून त्सांग द्वारा भी किया गया है। यह उत्तर प्रदेश के वाराणसी में स्थित है। इसका निर्माण गुप्त काल में एक मंदिर के रूप में किया गया था। इस स्थान पर भगवान् बुद्ध की भेंट पंचवर्गीय भिक्षुओं से हुई थी। गुप्तकाल के बाद राजा टोडरमल के पुत्र गोवर्धन ने स्तूप के स्थापत्य में परिवर्तन किया।

Advertisement

Month:

Categories:

Tags: , , ,