भारतीय मूल के गणितज्ञ अक्षय वेंकटेश ने जीता प्रतिष्ठित फ़ील्ड्स मैडल

भारतीय मूल के ऑस्ट्रेलियन गणितज्ञ अक्षय वेंकटेश ने प्रतिष्ठित फ़ील्ड्स मैडल जीता। फ़ील्ड्स मैडल को गणित का नोबेल पुरस्कार भी कहा जाता है। अक्षय वेंकटेश के अलावा यह पुरस्कार कैंब्रिज विश्वविद्यालय के प्रोफेसर कुचेर बिरकर और जर्मनी के पीटर शोल्ज़ को दिया गया। पीटर शोल्ज़ बोन यूनिवर्सिटी में अध्यापन कार्य करते हैं।

मुख्य बिंदु

फ़ील्ड्स पुरस्कार चार साल बाद 40 वर्ष से कम की आयु के गणितज्ञों को प्रदान किया जाता है, यह पुरस्कार गणितज्ञों को गणित के क्षेत्र उत्कृष्ट योगदान के लिए दिया जाता है। यह पुरस्कार ब्राज़ील के रियो डी जनेरो में अंतर्राष्ट्रीय गणित कांग्रेस के अवसर पर दिए गए। इस पुरस्कार में विजेताओं को 15000 कनाडाई डॉलर (लगभग 7,90,000 रुपये) दिए जाते हैं।

अक्षय वेंकटेश का जन्म नई दिली में हुआ था, दो वर्ष की आयु में उनके माता-पिता ऑस्ट्रेलिया चले गए। 13 वर्ष की आयु में उन्होंने हाई स्कूल पास किया। 16 वर्ष की आयु में उन्होंने वेस्टर्न ऑस्ट्रेलिया विश्वविद्यालय से स्नातक की उपाधि प्राप्त की। उन्होंने मात्र 20 वर्ष की आयु में पीएचडी पूरी की थी। वर्तमान में वे प्रतिष्ठित स्टेनफोर्ड विश्वविद्यालय में पढ़ाने का कार्य करते हैं।

Advertisement

Month:

Categories:

Tags: , , , , ,