भारतीय वायु सेना ने MY IAF एप्लीकेशन लांच की

24 अगस्त, 2020 को भारतीय वायु सेना ने MY IAF मोबाइल एप्लीकेशन लॉन्च की। यह एप्प उम्मीदवारों को कैरियर से संबंधित जानकारी और नौकरी का विवरण प्रदान करेगी।

मुख्य बिंदु

इस मोबाइल एप्लीकेशन में चयन प्रक्रिया, पाठ्यक्रम, प्रशिक्षण, भुगतान और अन्य प्रासंगिक विवरण उपलब्ध होगा।  यह लॉन्च डिजिटल इंडिया पहल का एक हिस्सा है। इसे सेंटर फॉर डेवलपमेंट ऑफ एडवांस्ड कंप्यूटिंग (C-DAC) द्वारा विकसित किया गया है।

भारत सरकार की अन्य सफल एप्लीकेशन

भारत सरकार ने डिजिटल इंडिया प्रोग्राम लॉन्च करने के बाद हाल ही में कई मोबाइल एप्लिकेशन लॉन्च किए हैं। कुछ सबसे सफल एप्प इस प्रकार हैं :

उमंग

  • UMANG का पूर्ण स्वरुप  Unified Mobile Application for New-Age Governance है
  • इसे 2017 में इलेक्ट्रॉनिक्स और सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय द्वारा लॉन्च किया गया था।
  • उपयोगकर्ता एप्प के तहत कई सरकारी सेवाओं का लाभ उठा सकता है। इसमें आधार, डिजिलॉकर, कर्मचारी भविष्य निधि, ई-भूमि रिकॉर्ड, पेंशन, ई-पाठशाला, फसल बीमा आदि शामिल हैं।
  • हाल ही में, भारतीय मौसम विभाग ने मौसम सेवाओं को इस एप्लीकेशन में जोड़ा है। इसमें वर्षा की जानकारी, मौसम, चक्रवात की चेतावनी आदि शामिल हैं।

BHIM

  • BHIM का पूर्ण स्वरुप Bharat Interface for Money है
  • यह एप्लीकेशन भारत के राष्ट्रीय भुगतान निगम द्वारा विकसित की गयी थी
  • यह एप्प भारत में कैशलेस पैसे के लेनदेन में मदद करती है
  • उपयोगकर्ता बैंक बैलेंस की जांच कर सकता है, एप्लिकेशन का उपयोग करके पैसे भेज और प्राप्त कर सकता है।

डिजी लॉकर

यह एप्लीकेशन ड्राइविंग लाइसेंस, अध्ययन प्रमाण पत्र और अन्य सरकारी सेवा दस्तावेजों जैसे महत्वपूर्ण दस्तावेजों के लिए क्लाउड स्टोरेज की सुविधा प्रदान करती है

 mPassport सेवा

  • यह एप्प भारत सरकार के कांसुलर, पासपोर्ट और वीज़ा डिवीजन द्वारा विकसित की गयी थी
  • इस एप्लिकेशन का उपयोग करते हुए उपयोगकर्ता अपने पासपोर्ट की स्थिति को ट्रैक कर सकते हैं
  • उपयोगकर्ता निकटतम पासपोर्ट सेवा केंद्र की जानकारी प्राप्त कर सकते हैं

डिजिटल इंडिया

  • देश में डिजिटल इंडिया कार्यक्रम की प्रगति और प्रभाव निम्नलिखित हैं :
  • लगभग 12,000 ग्रामीण डाकघरों को इलेक्ट्रॉनिक रूप से जोड़ा गया है
  • इलेक्ट्रॉनिक लेनदेन में वृद्धि
  • लगभग 2,74,246 किमी ऑप्टिकल फाइबर नेटवर्क 1.15 लाख ग्राम पंचायतों से जुड़ा है।

Advertisement

Month:

Categories:

Tags: , , , , , , , , ,