रक्षा अधिग्रहण परिषद ने 83 तेजस लड़ाकू विमानों की खरीद को मंजूरी दी

18 मार्च, 2020 को रक्षा अधिग्रहण परिषद ने भारतीय वायु सेना के लिए स्वदेश निर्मित 83 तेजस लड़ाकू विमानों की खरीद को मंजूरी दी। इस प्रस्ताव को सुरक्षा पर कैबिनेट समिति के तहत रखा जायेगा। यह मेक इन इंडिया को बढ़ावा देने के लिए एक महत्वपूर्ण पहल है।

तेजस

लाइट कॉम्बैट एयरक्राफ्ट LCA-तेजस को एयरक्राफ्ट डेवलपमेंट एजेंसी (ADA) द्वारा डिजाइन किया गया था। एयरक्राफ्ट डेवलपमेंट एजेंसी डीआरडीओ (रक्षा अनुसंधान विकास संगठन) के तहत कार्य करती है। इसका निर्माण हिंदुस्तान एयरोनॉटिक्स लिमिटेड (HAL) द्वारा किया गया है।

यह विमान भारतीय वायु सेना के लिए अति महत्वपूर्ण हैं। गौरतलब है कि 1962 में भारत-चीन युद्ध के दौरान भारत को पर्याप्त लड़ाकू विमानों  की कमी के कारण काफी नुकसान हुआ था।

रक्षा अधिग्रहण परिषद

रक्षा अधिग्रहण परिषद, रक्षा मंत्रालय के तहत कार्य करती है और निर्णय लेने वाली सर्वोच्च संस्था है। इन निर्णयों में तीनों सेवाओं के लिए नीतियां, अधिग्रहण और पूंजी शामिल हैं। रक्षा मंत्री श्री राजनाथ सिंह इस परिषद के अध्यक्ष हैं। 1999 में कारगिल युद्ध के बाद 2001 में इस परिषद् का गठन किया गया था।

Advertisement

Month:

Categories:

Tags: , , , , ,