रक्षा मंत्रालय ने 17 नये बैफल फायरिंग रेंजों के निर्माण को मंजूरी दी

केंद्रीय रक्षा मंत्रालय ने विभिन्न सैन्य स्टेशनों, छावनीयों, प्रशिक्षण प्रतिष्ठानों में 17 नये बैफल फायरिंग रेंज के निर्माण कार्य को मंजूरी दे दी है. प्रस्तावित बैफल फायरिंग श्रृंखला 300 से 500 मीटर तक फायरिंग की सुविधा दे सकती है. इन 17 बैफल फायरिंग रेंजों के निर्माण कार्य में लगभग 238 करोड़ रुपये की लागत लगने का अनुमान है.

मुख्य तथ्य

ये 17 नई फायरिंग रेंज पूरे देश में मौजूद 60 फायरिंग रेंजों के अतिरिक्त होंगी. इसमें दक्षिण कमान को 7 रेंज, पूर्वी कमान को 3 रेंज, उत्तरी कमान को 2 रेंज तथा दक्षिण पश्चिमी और केंद्रीय कमान को 1-1 रेंज मिलेंगे. बैफल फायरिंग रेंज में शूटिंग अभ्यास क्षेत्र शामिल हैं जो गोली चलने के कारण संभावित दुर्घटनाओं को रोकते हैं. हाल के दिनों में, छावनी क्षेत्रों के आसपास नागरिक आबादी के विकास के कारण, गोली चलने से संभावित दुर्घटनाओं की प्रायिकता बढ़ गई है. सशस्त्र बलों की प्रशिक्षण आवश्यकताओं को प्रभावित किए बिना इस तरह की दुर्घटनाओं और हताहतों को रोकने के लिए नई बैफल रेंजों को मंजूरी दी गई है.

Advertisement

Month:

Categories:

Tags: , , ,