राजस्थान में शुरू की गई ‘अन्नपूर्णा दूध योजना’

2 जुलाई 2018 को राजस्थान की मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने जिले के दहमीकलां गांव (बगरू विधानसभा क्षेत्र में स्थित) के एक स्कूल में बच्चों को दूध वितरित कर ‘अन्नपूर्णा दूध योजना’ की शुरुआत की. इस योजना के अनुसार राजस्थान के सरकारी स्कूलों में आठवीं कक्षा तक पढ़ने वाले सभी बच्चों को सप्ताह में तीन दिन गर्म दूध दिया जाएगा.

मुख्य बिन्दु

योजना में 66 हजार स्कूलों सहित सैकड़ों मदरसों का नाम शामिल है. तथा इस योजना से 62 लाख सरकारी स्कूलों के बच्चे और 4 लाख मदरसों के बच्चे लाभांवित्त किए जाएंगे. इस योजना का उदेश्य बच्चों का किसी भी तरह के कुपोषण से बचाव तथा उनमें सही मात्रा में प्रोटीन की उपलब्धता करना है. योजना के कारण सरकारी स्कूलों में बच्चों के नामांकन बढ़ने का अंदेशा लगाया जा रहा है. राजस्थान सरकार ने दूध के इंतजाम का जिम्मा डेयरी विभाग के अधीन आने वाली सरस डेरी को दिया है, जो ताजा और गर्म दूध बच्चों को मिड डे मील के साथ देगी. इस योजना के लिए अलग से बजट का आवंटन भी किया गया है जिसकी घोषणा वसुंधरा राजे ने शुरुआत में ही कर दी थी.

Advertisement

Month:

Categories: ,

Tags: , , , , ,