रेल ट्रैक की जांच हेतु 09-3 एक्स डायनेमिक टेम्पिंग एक्सप्रेस मशीन का उद्घाटन किया गया

डायनेमिक टेम्पिंग एक्सप्रेस मशीनों का उद्घाटन फरीदाबाद में रेलवे बोर्ड द्वारा किया गया । भारी सघनता वाले मार्गो पर तैनाती के लिए 874 ट्रैक रखरखाव मशीनों के वर्तमान बेड़े में अगले छह महीने के दौरान भारतीय रेल द्वारा ऐसी सात मशीनों के शामिल किए जाने की योजना है। भारतीय रेल ने 2024 तक पटरियों की जांच, निगरानी, रिलेयिंग एवं रखरखाव के पूर्ण यांत्रिकीकरण की योजना बनाई है।

मुख्य तथ्य

o प्रति मशीन 27 करोड़ रुपये लागत वाली नई 09-3 एक्स डायनेमिक टेम्पिंग एक्सप्रेस विविध कार्यो, जिसे अबतक विभिन्न मशीनों द्वारा किया जाता रहा है, से संबंधित नवीनतम उच्च आउटपुट समेकित टेम्पिंग मशीन है।
o तीन स्लीपर्स को यह एक ही साथ टेम्प कर सकती है। किया गया कार्य गुणवत्तापूर्ण है या नहीं, यह सुनिश्चित करने के लिए पोस्ट टैम्पिंग ट्रैक मानकों को स्टेबलाइज कर सकती है तथा उनकी माप कर सकती है।
o मेक इन इंडिया के तहत इन मशीनों का विनिर्माण आयातित कंपोनेंट्स के साथ भारत में किया गया है। अगले तीन वर्षो के दौरान भारतीय रेल रखरखाव हेतु 42 और मशीनों को शामिल करने की योजना बनाई गई है। भारतीय रेल में इससे पटरियों के रखरखाव में सुरक्षा, विश्वसनीयता में और बेहतरी आएगी।
o मेनुअल इंटरफेस समेत तीन परिचालनों को अब एक मशीन में जोड़ दिया गया है।
o ऐसे उन्नत ट्रैक रखरखाव के परिचालन के लिए व्यवहारिक व क्रियाशील प्रशिक्षण देने हेतु एक नई थ्री-डी अत्याधुनिक टैम्पिंग सिमुलेटर भारतीय रेल ट्रैक मशीन ट्रेनिंग सेन्टर, इलाहाबाद (आईआरटीएमटीसी) में संस्थापिक किया गया है।
o इस प्रकार की उन्नत प्रौद्योगिकी सिमुलेटर वर्तमान में भारत समेत केवल पांच देशों में उपलब्ध है।

Advertisement

Month:

Categories:

Tags: , , , ,