सशस्त्र सीमा बल द्वारा की जायेगी दुधवा टाइगर रिज़र्व की सुरक्षा

दुधवा टाइगर रिज़र्व और सशस्त्र सीमा बल ने दुधवा के वनों तथा इसकी समृद्ध वनसंपदा की सुरक्षा के लिए एक साथ कार्य करने के निर्णय लिया है। इसके अलावा स्थानीय व केंद्रीय एजेंसियों व टाइगर प्रोटेक्शन फ़ोर्स के साथ मिलकर दुधवा टाइगर रिज़र्व की वन सम्पदा पर भी चर्चा की गयी।

मुख्य बिंदु

दुधवा टाइगर रिज़र्व की गश्त मे  सशस्त्र सीमा बल, STPF तथा DTR फील्ड स्टाफ कार्य करेंगे। इससे दुधवा टाइगर रिज़र्व में होने वाले वन्यजीव अपराधों में कमी आएगी। इसके अतिरिक्त SSB बॉर्डर लेवल कम्युनिकेशन व इनफार्मेशन आउटपोस्ट की स्थापना को भी मंज़ूरी प्रदान की।

दुधवा टाइगर रिज़र्व

यह एक सुरक्षित क्षेत्र है, यह उत्तर प्रदेश के लखीमपुर खेरी व बहराईच जिलों में फैला हुआ है। इसमें दुधवा राष्ट्रीय उद्यान,  किशनपुर वन्यजीव अभ्यारण्य तथा कतरनियाघाट वन्यजीव अभ्यारण्य शामिल है। इसका क्षेत्रफल 1,284.3 वर्ग किलोमीटर है। इस रिज़र्व में बाघों की संख्या 106-118 है। बाघ के अलावा इस सुरक्षित क्षेत्र में हिरण, भारतीय गैंडा, स्लोथ बार, सियार इत्यादि कई जानवर पाए जाते हैं।

Advertisement

Month:

Categories:

Tags: , , , ,