Mi-17 दुर्घटना बड़ी गलती थी : वायुसेना प्रमुख

भारतीय वायुसेना प्रमुख राकेश कुमार सिंह भदौरिया ने कहा है कि फरवरी, 2019 में गलती अपने Mi-17 हेलिकॉप्टर को मार गिराना बहुत बड़ी गलती थी। भारत के स्पाइडर एयर डिफेन्स सिस्टम ने श्रीनगर एयरफील्ड में Mi-17 हेलिकॉप्टर को मार गिराया था।

पूरा घटनाक्रम

भारतीय वायुसेना ने 26 फरवरी को बालाकोट में एयरस्ट्राइक की, वायुसेना के लड़ाकू विमाओं ने बालाकोट में आतंकी ठिकानों पर बम गिराए थे। इसी दौरान कश्मीर में Mi-17 हेलिकॉप्टर के क्रेश होने की खबर आई थी। दरअसल एक वायुसेना के मानवरहित विमान (UAV) ने भारतीय वायुसेना के Mi-17 हेलिकॉप्टर को पाकिस्तानी हेलिकॉप्टर समझकर मार गिराया था। इस घटना में वायुसेना के 6 अधिकारी शहीद हुए थे।

पिछले सप्ताह सैन्य न्यायालय ने जांच पूरी की थी। इस जांच में Mi-17 हेलिकॉप्टर को मार गिराने के लिए पांच वायुसेना अधिकारियों को दोषी पाया गया था। कोर्ट ने कहा कि एक ग्रुप कैप्टेन, 2 फ्लाइट लेफ्टिनेंट तथा विंग कमांडर ने हेलिकॉप्टर को मार गिराने के दौरान प्रक्रिया का पालन सही प्रकार से नहीं किया।

Advertisement

Month:

Categories:

Tags: , , , , , , , ,