NASSCOM ने शुरू किया ‘वुमेन विज़ार्ड रुल टेक’ कार्यक्रम

भारतीय आईटी उद्योग के सर्वोच्च निकाय NASSCOM (National Association of Software & Services Companies) ने सूचना प्रौद्योगिकी (IT) उद्योग में वरिष्ठ स्तरों में महिलाओं की संख्या बढ़ाने के लिए ‘वुमेन विज़ार्ड रुल टेक’ कार्यक्रम शुरू किया है. मार्च 2018 में चेन्नई में नासकॉम सेक्टर स्किल्स काउंसिल और भारत के डेटा सुरक्षा परिषद द्वारा संयुक्त पहल के रूप में नासकॉम विविधता और समावेशन शिखर सम्मेलन में इस कार्यक्रम की घोषणा की गई थी.

मुख्य तथ्य

यह कार्यक्रम अपने करियर में आगे बढ़ने वाली महिलाओं के समर्थन और भविष्य के संभावित अग्रणी लोगो के लिए मार्ग प्रशस्त करने हेतु बनाया गया है. यह कार्यक्रम तकनीकी महत्वकांशी महिलाओं की मुख्य तकनीक क्षेत्रों जैसे आईटी-सूचना प्रौद्योगिकी सक्षम सेवाओं (ITES), उत्पाद और अनुसंधान और विकास (R&D), बिजनेस प्रोसेस मैनेजमेंट (BPM) सेक्टर में उनके करियर में आवश्यक कौशल के लिए सहायता करेगा.

NASSCOM: National Association of Software & Services Companies

NASSCOM भारतीय सूचना प्रौद्योगिकी (IT) और बिजनेस प्रोसेस आउटसोर्सिंग (BPO) उद्योग का वैश्विक गैर-लाभकारी व्यापार संगठन है. यह सॉफ्टवेयर और सेवाओं में व्यापार की सुविधा प्रदान करता है और सॉफ्टवेयर प्रौद्योगिकी में शौध प्रगतियों को प्रोत्साहित करता है. यह भारतीय समाज अधिनियम, 1860 के तहत पंजीकृत है और इसका मुख्यालय नई दिल्ली में स्थित है.

बेंगलुरू, चेन्नई, हैदराबाद, कोच्चि, कोलकाता, मुंबई, पुणे और तिरुवनंतपुरम में इसके क्षेत्रीय कार्यालय भी हैं. विश्व स्तरीय आईटी व्यापार निकाय में 200 से अधिक सदस्य देश शामिल हैं, जिनमें से 250 से अधिक चीन, यूरोपीय संघ, जापान, अमेरिका और ब्रिटेन की कंपनियां हैं. NASSCOM की सदस्य कंपनियां सॉफ्टवेयर विकास, सॉफ्टवेयर सेवाओं, सॉफ्टवेयर उत्पादों, आईटी-सक्षम / बीपीओ सेवाओं और ई-कॉमर्स के क्षेत्र में कार्यरत्त हैं.

Advertisement

Month:

Categories:

Tags: , , , , ,