अंतर्राष्ट्रीय ओलिंपिक समिति

इस श्रेणी में अंतर्राष्ट्रीय ओलिंपिक समिति से संबन्धित हिन्दी भाषा के करेंट अफेयर्स (समाचार सारांश) एवं समसामयिक घटनाक्रम का SSC, Railways, RAS/RPSC, BPSC, MPPSC, JPSC, HPSC, UPPSC, UKPSC एवं अन्य प्रतियोगिता परीक्षाओं के लिए महत्वपूर्ण समाचारों का संग्रह किया गया है।

अगले वर्ष किया जाएगा टोक्यो ओलिंपिक का आयोजन

इस वर्ष टोक्यो में आयोजित किये जाने ओलिंपिक खेलों को अगले वर्ष के लिए स्थगित किया गया है। इन खेलों का आयोजन इस वर्ष 24 जुलाई से 16 दिन तक किया जाना था। परन्तु विश्व भर में कोरोना वायरस के फैलने के कारण इन खेलों को अब स्थगित कर दिया गया है। अब टोक्यो ओलिंपिक खेलों का आयोजन अगले वर्ष 23 जुलाई से 8 अगस्त, 2021 के दौरान कियाRead More...

नरिंदर बत्रा को अंतर्राष्ट्रीय ओलिंपिक समिति का अध्यक्ष चुना गया

भारतीय ओलिंपिक संघ के अध्यक्ष नरिंदर बत्रा को अंतर्राष्ट्रीय ओलिंपिक समिति का सदस्य चुना गया है, उन्हें 62 में से 58 वोट मिले। बत्रा समेत 10 नए सदस्यों को चुना गया है, इसके साथ ही अंतर्राष्ट्रीय ओलिंपिक समिति के सदस्यों की संख्या 105 पर पहुँच गयी है। नरिंदर बत्रा दिसम्बर, 2017 से अंतर्राष्ट्रीय ओलिंपिक समिति के अध्यक्षRead More...

भारत ने 2023 में अंतर्राष्ट्रीय ओलिंपिक समिति के सत्र की मेजबानी का प्रस्ताव रखा

भारत ने 2023 में मुंबई में अंतर्राष्ट्रीय ओलिंपिक समिति के सत्र की मेजबानी का प्रस्ताव रखा है। इस सत्र में 2030 शीतकालीन ओलिंपिक खेलों के मेज़बान शहर का चयन किया जायेगा। मुख्य बिंदु अंतर्राष्ट्रीय ओलिंपिक समिति के सत्र का आयोजन वर्ष में एक बार किया जाता है, यह समिति के सदस्यों की आम सभा होती है। भारतीय ओलिंपिक संघRead More...

अंतर्राष्ट्रीय ओलिंपिक समिति का मुख्यालय स्विट्ज़रलैंड में खोला गया

ओलिंपिक खेलों की 125वीं वर्षगाँठ के अवसर पर स्विट्ज़रलैंड के लौसेन में अंतर्राष्ट्रीय ओलिंपिक समिति के नए मुख्यालय का उद्घाटन किया गया। मुख्य बिंदु अंतर्राष्ट्रीय ओलिंपिक समिति की स्थापना पिएरे डी कोउबेर्तिन द्वारा की गयी थी। इसका उद्देश्य विश्व भर में शांतिपूर्ण प्रतिस्पर्धा को बढ़ावा देना था। ओलिंपिकRead More...

अंतर्राष्ट्रीय ओलिंपिक समिति ने भारत को वैश्विक इवेंट के आयोजन करने से निलंबित किया

अंतर्राष्ट्रीय ओलिंपिक समिति ने भारत को वैश्विक इवेंट के आयोजन करने से निलंबित कर दिया है, यह कदम भारत द्वारा दो पाकिस्तानी निशानेबाजों को वीजा न दिए जाने के कारण लिया गया है। यह दो पाकिस्तानी निशानेबाज़ ISSF विश्व कप के 25 मीटर रैपिड फायर पिस्टल इवेंट में हिस्सा लेने वाले थे। मुख्य बिंदु अंतर्राष्ट्रीय ओलिंपिकRead More...