जैश-ए-मोहम्मद

इस श्रेणी में जैश-ए-मोहम्मद से संबन्धित हिन्दी भाषा के करेंट अफेयर्स (समाचार सारांश) एवं समसामयिक घटनाक्रम का SSC, Railways, RAS/RPSC, BPSC, MPPSC, JPSC, HPSC, UPPSC, UKPSC एवं अन्य प्रतियोगिता परीक्षाओं के लिए महत्वपूर्ण समाचारों का संग्रह किया गया है।

सूडान को आतंकवाद के राज्य प्रायोजकों की सूची से हटाया गया

9 नवंबर, 2020 को सूडान को आतंकवाद के राज्य प्रायोजकों की सूची से हटा दिया गया। भारत ने इसके हटाने का स्वागत किया है। साथ ही, भारत ने इजरायल के साथ सूडान के संबंधों के सामान्यीकरण का स्वागत किया। सूडान-इजरायल यूएई, बहरीन के बाद, सूडान पिछले दो महीनों में इजरायल के साथ अपने संबंधों को सामान्य करने वाला तीसरा देश बनRead More...

13 दिसम्बर, 2001 को भारतीय संसद पर हुआ था आतंकवादी हमला

13 दिसम्बर, 2001 को भारतीय संसद पर आतंकवादी हमला हुआ था। इस हमले में पांच आतंकवादियों की मौत हुई थी तथा दिल्ली पुलिस के 6 जवान शहीद हुए थे। मुख्य बिंदु संसद पर आतंकवादी हमले में लश्कर-ए-तैय्यबा और जैश-ए-मोहम्मद नामक आतंकी संगठनों का हाथ था। इस घटना के बाद भारत और पाकिस्तान के बीच सम्बन्ध काफी तनावपूर्ण हो गये थे।Read More...

संयुक्त राष्ट्र ने पाकिस्तान के मसूद अज़हर को वैश्विक आतंकवादी घोषित किया

संयुक्त राष्ट्र ने पाकिस्तान के कुख्यात आतंकवादी मसूद अजहर को वैश्विक आतंकवादी घोषित कर दिया है। हाल ही में चीन ने भारी अंतर्राष्ट्रीय दबाव के बाद तकनीकी रोक को हटाया, जिसके बाद मसूद अजहर को वैश्विक आतंकी घोषित किया गया। चीन काफी समय से मसूद अजहर को वैश्विक आतंकी घोषित न किये जाने के लिए अड़ंगा लगा रहा था। मसूदRead More...

चीन ने अज़हर मसूद को वैश्विक आतंकवादी घोषित किये जाने पर आपत्ति जताई

चीन ने अज़हर मसूद को वैश्विक आतंकवादी घोषित किये जाने पर आपत्ति जताई है। अज़हर मसूद पाकिस्तान में मौजूद आतंकवादी संगठन जैश-ए-मोहम्मद का प्रमुख है। इसके लिए फ्रांस, अमेरिका और यूनाइटेड किंगडम ने 27 फरवरी को प्रस्ताव पारित किया था। चीन संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद् का स्थायी सदस्य है। चीन ने आपत्ति दायर करनेRead More...

13 दिसम्बर, 2001 को भारतीय संसद पर हुआ था आतंकवादी हमला

आज भारतीय संसद पर हुए आतंकवादी हमले की वर्षगाँठ है, 13 दिसम्बर, 2001 को भारतीय संसद पर आतंकवादी हमला हुआ था। इस हमले में पांच आतंकवादियों की मौत हुई थी तथा दिल्ली पुलिस के 6 जवान शहीद हुए थे। मुख्य बिंदु संसद पर आतंकवादी हमले में लश्कर-ए-तैय्यबा और जैश-ए-मोहम्मद नामक आतंकी संगठनों का हाथ था। इस घटना के बाद भारत औरRead More...