नागालैंड

इस श्रेणी में नागालैंड से संबन्धित हिन्दी भाषा के करेंट अफेयर्स (समाचार सारांश) एवं समसामयिक घटनाक्रम का SSC, Railways, RAS/RPSC, BPSC, MPPSC, JPSC, HPSC, UPPSC, UKPSC एवं अन्य प्रतियोगिता परीक्षाओं के लिए महत्वपूर्ण समाचारों का संग्रह किया गया है।

परिसीमन आयोग चार पूर्वोत्तर राज्यों और जम्मू-कश्मीर का दौरा करेगा

असम, नागालैंड, मणिपुर, अरुणाचल प्रदेश और जम्मू-कश्मीर के निर्वाचन क्षेत्रों को फिर से तैयार करने के लिए परिसीमन पैनल का गठन किया गया है ताकि परिसीमन अभ्यास का एक व्यापक ढांचा तैयार किया जा सके। मुख्य बिंदु परिसीमन पैनल 2011 की जनगणना के आधार पर निर्वाचन क्षेत्रों का चित्रण फिर से करेगा। यह जम्मू और कश्मीर कीRead More...

नागालैंड में 6 महीने के लिए AFSPA को बढ़ाया गया

केंद्र सरकार ने नागालैंड को अशांत क्षेत्र घोषित करते हुए सशस्त्र बल (विशेष शक्तियां) अधिनियम, 1958 (AFSPA) को नागालैंड में 6 महीने के लिए बढ़ाया है। अब AFSPA नागालैंड में2020 के अंत तक लागू रहेगा। सशस्त्र बल (विशेष शक्तियां) अधिनियम, 1958 (AFSPA) AFSPA को 1958 में लागू किया गया था, इसका उपयोग अशांत घोषित किये गये क्षेत्रों में किया जाता है।Read More...

नागालैंड ने डीजल, पेट्रोल और मोटर स्पिरिट पर COVID-19 उपकर लगाया

नागालैंड ने डीजल, पेट्रोल और मोटर स्पिरिट के लिए COVID-19 उपकर लगाने की योजना शुरू की है। गौरतलब है कि राष्ट्रव्यापी लॉकडाउन के चलते आर्थिक गतिविधियाँ काफी कम हो गयी हैं, जिससे राज्यों को राजस्व की कमी का सामना करना पड़ रहा है। इसलिए राज्य पेट्रोल व डीजल पर उपकार लगा रहे हैं। मुख्य बिंदु नागालैंड ने 28 अप्रैल की रातRead More...

त्रिपुरा में किया जाएगा हार्नबिल उत्सव का आयोजन

त्रिपुरा सरकार ने पहली बार 8 फरवरी, 2020 को दो दिवसीय हार्नबिल उत्सव के आयोजन करने का निर्णय लिया है। हालाँकि हार्नबिल उत्सव नागालैंड का महत्वपूर्ण उत्सव है, इसका आयोजन नागालैंड में दिसम्बर माह में किया जाता है। त्रिपुरा द्वारा हार्नबिल का आयोजन हार्नबिल नामक पक्षी के संरक्षण तथा पर्यटन के द्वारा आजीविका कोRead More...

असम राइफल्स द्वारा नागालैंड में किया गया युद्ध स्मारक का निर्माण

असम राइफल्स ने नागालैंड में 357 शहीदों के सम्मान में युद्ध स्मारक का निर्माण किया। इन 357 शहीदों ने उत्तर पूर्वी राज्यों में उग्रवाद के विरुद्ध कार्य किया। यह राज्य में बनाया गया इस प्रकार का पहला स्मारक है। इस प्रकार के स्मारक का निर्माण असम मोकोकचुंग में भी किया गया है। इस युद्ध स्मारक का निर्माण गोलाकार मेंRead More...