ICMR Page-2

इस श्रेणी में ICMR से संबन्धित हिन्दी भाषा के करेंट अफेयर्स (समाचार सारांश) एवं समसामयिक घटनाक्रम का SSC, Railways, RAS/RPSC, BPSC, MPPSC, JPSC, HPSC, UPPSC, UKPSC एवं अन्य प्रतियोगिता परीक्षाओं के लिए महत्वपूर्ण समाचारों का संग्रह किया गया है।

हाइड्रॉक्सीक्लोरोक्वीन के उपयोग पर एडवाइजरी को संशोधित किया गया

23 मई, 2020 को इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिकल रिसर्च ने HCQ (हाइड्रोक्सीक्लोरोलाइन) के उपयोग पर अपनी एडवाइजरी को संशोधित किया है। नए दिशानिर्देशों के तहत, एचसीक्यू केवल एक पंजीकृत चिकित्सक के पर्चे पर ही दी जानी चाहिए। मुख्य बिंदु संयुक्त निगरानी समूह ने अपनी बैठक आयोजित करने के बाद यह एडवाइजरी जारी की थी। बैठक में ICMR,Read More...

ICMR COVID-19 के ग्लोबल सॉलिडैरिटी ट्रायल में हिस्सा लेगा

भारतीय चिकित्सा अनुसंधान परिषद को विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) द्वारा शुरू की गई COVID-19 के ग्लोबल सॉलिडैरिटी ट्रायल में हिस्सा लेगा। परीक्षण डब्ल्यूएचओ ने चार उपचारों की दक्षता और सटीकता का परीक्षण करने के लिए चार मेगा परीक्षण शुरू किए हैं। यह उपचार इस प्रकार हैं  : हाइड्रोक्सीक्लोरोक्वीन रेमडेसिविर लोपिनवीर-रिटोनवीर Read More...

आईसीएमआर घरेलू सर्वेक्षण करवाएगा

भारतीय चिकित्सा अनुसंधान परिषद (ICMR) घरेलू सर्वेक्षण करेगा। इस सर्वेक्षण के तहत विभिन्न जिलों में 24,000 वयस्कों में एंटीबॉडी परीक्षण किया जाएगा। मुख्य बिंदु घरेलू सर्वेक्षण वर्तमान में चल रहे सर्वेक्षणों से पूरी तरह से अलग है। इस सर्वेक्षण के तहत, सभी जिलों के व्यक्तियों का परीक्षण किया जाएगा। हर जिले में सर्वेक्षणRead More...

COVID KAVACH: COVID-19 के लिए भारत का पहली स्वदेशी एलिसा टेस्ट किट

नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ वायरोलॉजी ने COVID-19 के लिए स्वदेशी रूप से एंटीबॉडी डिटेक्शन किट विकसित की है। यह किट COVID-19 संक्रमण की निगरानी में महत्वपूर्ण भूमिका निभाएगी। मुख्य बिंदु यह किट 2.5 घंटे में 90 नमूनों का परीक्षण करने में सक्षम है। इस किट को संयुक्त रूप से ICMR (इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिकल रिसर्च) और NIV द्वारा विकसित कियाRead More...

ICMR COVID-19 के लिए वैक्सीन विकसित करेगा

भारतीय चिकित्सा अनुसंधान परिषद ने स्वदेशी वैक्सीन विकसित करने के लिए भारत बायोटेक इंटरनेशनल लिमिटेड (BBIL) के साथ करार किया है। इस वैक्सीन को वायरस के उपभेदों का उपयोग करके विकसित किया जायेगा जिसे पुणे के नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ वायरोलॉजी (NIV) में COVD-19 रोगियों से अलग किया गया है। महत्व टीके बीमारियों को रोकने मेंRead More...